Sukanya Samridhi Yojana 2024-2024: सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ

Sukanya Samridhi Yojana । PM Sukanya Samridhi Yojana 2023। सुकन्या समृद्धि योजना

Sukanya Samridhi Yojana 2024: नमस्कार दोस्तों आप सब का स्वागत है आज हम बात करेंगे सुकन्या समृद्धि योजना की आज हम आपको अपने लेख में इसकी संपूर्ण जानकारी देंगे जैसा कि आप जानते हैं Sukanya Samridhi Yojana 2023 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने देश की मीटिंग क्लास परिवारों से संबंध रखने वाली बालिकाओं के भविष्य की आर्थिक समस्याओं को बचाने के लिए शुरू किया है।

Sukanya Samridhi Yojana

Sukanya Samridhi Yojana 2023 के तहत माता-पिता के द्वारा अपनी बालिका की आयु 10 वर्ष पूरी होने से पहले निवेश खाता खोला जाता है यह निवेश खाता बैंक या पोस्ट ऑफिस में खोला जाएगा जिसमें पालिका के माता-पिता के द्वारा नियंत्रण ढाई ₹100 और अधिकतम लाख रुपए प्रतिमा निवेश के रूप में जमा किए जा सकते हैं अगर आप भी निवेश खाता खोलना चाहते हैं तो हमारे लेख को अंत तक पढ़े तभी आपको उसकी संपूर्ण जानकारी मिलेगी

Table of Contents

PM Sukanya Samridhi Yojana 2023-24 सुकन्या समृद्धि योजना क्या है??

केंद्र सरकार द्वारा चलाई जाने वाली Sukanya Samridhi Yojana 2023 निवेश बचत योजना है जो देश की 10 वर्ष से कम आयु की बालिकाओं के माता-पिता को उनके भविष्य को सुरक्षित करने हेतु आकर्षित हुई है यह योजना बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का एक ही भाग है इस योजना के तहत माता-पिता द्वारा बालिकाओं का निवेश खाता खोला जाता है

जो किसी 18 साल की आयु को उसकी शादी तक संचालित किया जाता है लेकिन इस खाते में 15 15 साल तक निवेश करना अनिवार्य है सन 2022 के लिए इस खाते पर निवेश की गई धनराशि 7 पॉइंट 6 प्रतिशत की दर से ब्याज प्रदान किया जाएगा और साथियों इस योजना के तहत 1 साल में अधिकतम ₹100000 निवेश करने पर आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80 सी के तहत टैक्स में छूट भी प्रदान की जाएगी

PM Sukanya Samridhi Yojana 2023 Benefits : पीएनबी द्वारा सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ

सुकन्या समृद्धि योजना 2023 का लावा पंजाब नेशनल बैंक द्वारा दिया जाएगा यह सरकारी योजना है जो केंद्र सरकार द्वारा 10 साल से कम आयु की बालिकाओं के लिए शुरू की गई है पंजाब नेशनल बैंक ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट के माध्यम से सूचना दी है कि अब Sukanya Samridhi Yojana 2023 के माध्यम से 10 साल से कम आयु वाली वाली गाय पीएनबी में सुकन्या खाता खोलकर न्यूनतम ढाई ₹100 से अधिकतम डेढ़ लाख तक वित्तीय वर्ष में जमा कर सकते हैं जिस पर आयकर लाभ 80 सी के तहत छूट का फायदा मिलेगा साथ ही सालाना आकर्षक दर से ब्याज मिलेगा

PM Sukanya Samridhi Yojana 2023 Highlights

योजना का नाम सुकन्या समृद्धि योजना 
वर्षजनवरी 2022
लाभार्थी 0 से 10 वर्ष की बालिकाएं 
निवेश राशि न्यूनतम 250/-
अधिकतम निवेश – 150000/-
कुल अवधि 15 वर्ष 
परिवार में कुल कितने खाते खुलवा सकते है। केवल 2 बालिकाओं के (पहली बेटी होने के बाद दूसरी बार जुड़वाँ बेटियां होने की कंडीशन पर तीन बेटियों का खाता खुलवाया जा सकता है।)
सुकन्या समृद्धि योजना आवेदन फॉर्मSSY Form Download
परिपक्वता अवधि (मेट्यूरिटी)21 वर्ष

Sukanya Samridhi Yojana 2023 : सुकन्या समृद्धि योजना 2023 के तहत आधारित ने निवेश सीमा:::::—

खाताधारक इस योजना के तहत 1 साल में नियंत्रण ढाई ₹100 और अधिकतम ₹200000 तक जमा कर सकते हैं यह राशि धारा तारक को 15 साल तक जमा करनी है यदि आप की कन्या 8 साल की है तो 23 साल तक इस खाते में न्यूनतम निवेश राशि जमा करने अनिवार्य है इसके बाद ही आपको निवेश राशि की अवधि पर ब्याज मिलता रहेगा

बालिका 18 वर्ष की आयु पूरी होने पर निकाल सकती है 50 परसेंट निवेश राशि:::—

इस योजना के तहत खोले गए खाते पर 15 साल तक निवेश करना जरूरी है यदि कन्या 18 वर्ष की पूरी हो जाने के बाद दसवीं पास करने के बाद पढ़ाई करने के लिए सुकन्या समृद्धि योजना खाते में 50 प्रशन राशि निकालना चाहती है तो वह निकाल सकती है यह धनराशि कन्या या माता-पिता कानूनी अभिभावक द्वारा एक साथ किस्तों में निकाली जा सकती है परंतु 1 वर्ष में एक ही बार और अधिकतम 5 वर्षों तक किस्त में धनराशि निकाली जा सकती है

Sukanya Samridhi Yojana 2023 Tax free – सुकन्या समृद्धि योजना टैक्स फ्री::::—

भारत सरकार द्वारा समृद्धि योजना 2023 को टैक्स पी रखा गया इस योजना के तहत आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80 सी के तहत डेढ़ लाख रुपए तक निवेश की गई राशि पर कोई टैक्स नहीं लगाया जाएगा इस योजना में निवेश की गई राशि एवं उस पर अर्जित ब्याज के साथ साथ परिवार राशि पर भी कोई टैक्स नहीं लगेगा यह योजना खाता धारा की बचत को सुरक्षित रखने के साथ उन्हें टेक्सेवी बचाती है

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत निवेश खाते की परिपक्वता अवधि::::—

Sukanya Samridhi Yojana 2023 के तहत जो निवेश खाता खोला जाता है उसकी परिपक्वता अवधि बालिका के किस साल के पूरी हो जाने पर यह 18 वर्ष की आयु के बाद उसकी शादी हो जाने तक होती है लेकिन दोनों स्थिति में इस खाते में निवेश खाता खोलने की तिथि से 15 साल की अवधि तक अवधि तक जमा हुआ होना चाहिए उसके बाद अकाउंट में परी वक्ता तक ब्याज मिलता रहेगा चाहे आप खाते में कोई डिपॉजिट करें या ना करें

सुकन्या समृद्धि योजना खाता किन परिस्थितियों में परिपक्वता अवधि से पहले बंद किया जा सकता है???

  • 18 साल की आयु हो जाने पर शादी के लिए-लाभार्थी बालिका द्वारा 18 साल की आयु हो जाने के बाद अपनी शादी बेटी की शादी के खर्च के लिए Sukanya Samridhi Yojana 2023 की अवधि से पहले बंद कर सकता है
  • खाताधारक की आकस्मिक मृत्यु हो जाने पर-अगर पालिका की आकस्मिक मृत्यु हो जाती है तो ऐसी स्थिति में माता-पिता या कानूनी अभिभावक खाते में जमा राशि और उस पर अर्जित व्यास निकाल सकते हैं यह राशि निकालने के लिए माता-पिता या कानूनी अभिभावक द्वारा खाता धारक की मृत्यु हो जाने से जुड़े संबंधित अधिकारी द्वारा वेरीफाई हुए दस्तावेज को जमा करना होगा इसके बाद तुरंत माता-पिता इस धनराशि को ले सकते हैं
  • आर्थिक रूप से खाता जारी रखने में असमर्थ होने पर-बालिका के माता-पिता आर्थिक रूप से खाता जारी रखने में असमर्थ है तो इस स्थिति में वह खाते को बंद कर सकते हैं लेकिन इसके लिए उन्हें संबंधित अधिकारी से अनुमति लेनी होगी

Sukanya Samridhi Yojana 2023 Interest rates – सुकन्या समृद्धि योजना के तहत निर्धारित ब्याज दरें::::—

वित्तीय वर्षप्रतिवर्ष जमा राशि (₹)अर्जित ब्याज (₹)साल के अत में कुल राशि
20151000007600107600
201610000015777.6223377.6
201710000024576.70347954.30
201810000034044.53481998.82
201910000044231.91626230.73
202010000055193.54781424.27
202110000066988.24948412.52
202210000079679.351128091.87
202310000093334.981321426.85
2024100000108028.441529455.29
2025100000123838.601753293.89
2026100000140850.341994144.23
2027100000159154.962253299.19
2028100000178850.742532149.93
2029100000200043.392832193.32
20300215246.693047440.01
20310231605.443279045.45
20320249207.453528252.91
20330268147.223796400.13
20340288526.414084926.54
20350310454.42₹4395380.96

सुकन्या समृद्धि योजना खाता ट्रांसफर::::—

Sukanya Samridhi Yojana 2023 खाता धारक को देश के किसी भी एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में या किसी एक बैंक से दूसरे बैंक में समृद्धि योजना 2023 के खाते को निशुल्क ट्रांसफर करने की सुविधा प्रदान की गई है यह सुविधा प्रदान होने पर जलधारा खाताधारक अपने मूल जगह से कहीं शिफ्ट हो जाता है

तो वह इस सुविधा को प्राप्त करने के लिए खाताधारकों शिफ्ट होने का सबूत दिखाना होगा यदि वह सिर्फ उनका सबूत नहीं दिखाता है तो उसे उसका खाता खुला हुआ वहां पर ₹100 अदा करने होंगे जिससे बैंक या पोस्ट ऑफिस में कोर बैंकिंग सिस्टम की सुविधाएं उपलब्ध है तब वहां आप Sukanya Samridhi Yojana 2023 खाता इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से ट्रांसफर कर सकते हैं

लाभार्थी देश के कौन-कौन से बैंक में सुकन्या समृद्धि योजना का खाता खुलवा सकते हैं???

हमारे देश में भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा अधिकृत 24बैंक है लाभार्थी इन बैंकों में अपने नजदीकी किसी भी बैंक में जाकर अकाउंट खुलवा सकते हैं यह 24 बैंक निम्नलिखित हैं:::—

  • बैंक ऑफ इंडिया
  • भारतीय स्टेट बैंक
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • बैंक ऑफ बड़ौदा
  • एक्सिस बैंक
  • सेरा बैंक
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • इलाहाबाद बैंक
  • पंजाब एंड सिंध बैंक
  • ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स
  • स्टेट बैंक ऑफ सिकंदराबाद
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
  • यूको बैंक
  • यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया
  • विजय बैंक
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • केनरा बैंक
  • बैंक
  • स्टेट बैंक ऑफ पटियाला
  • स्टेट बैंक ऑफ मैसूर
  • आईडीबीआई बैंक
  • आईसीआईसी बैंक
  • स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर और जयपुर
  • स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर

समृद्धि समृद्धि सुकन्या योजना का एक परिवार में कितनी कन्याओं को लाभ मिलेगा???

केंद्र सरकार द्वारा समृद्धि योजना के अंतर्गत परिवार की केवल दो बालिका को ही निवेश खाता खोलने की अनुमति है लेकिन कुछ विशेष मामलों में एक परिवार की दो से अधिक बालिकाओं का निवेश खाता खोला जा सकता है।

  • अगर जुड़ वाया टंडवा बालिकाओं के जन्म से पहले एक बालिका का जन्म होता है या पहले से एक साथ तीन बच्चे जन्म लेते हैं तो तीसरा खाता खोला जा सकता है
  • अगर जुड़वा या तिर्वा बालिकाओं के जन्म के बाद एक और बालिका का जन्म होता है तो जुड़ वाया तड़वा बालिका का ही निवेश खाता खोला जा सकता है ना कि उसके बाद जन्मी बालिका का।

PM Sukanya Samridhi Yojana 2023 Objectives : सुकन्या समृद्धि योजना 2023 का उद्देश्य

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य बालिकाओं के भविष्य को उज्जवल करना है उनकी आर्थिक समस्याओं को दूर करना है क्योंकि इस महंगाई के दौर में मिडिल क्लास परिवार से संबंध रखने वाले माता पिता को अपनी बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करवाते समय और शादी करते समय बहुत सी समस्याओं से जूझना पड़ता है इन्हीं बातों का ध्यान रखते हुए प्रधानमंत्री ने सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत की है

इस योजना के तहत देशभर में कोई भी मिडिल क्लास परिवार से संबंध रखने वाले माता-पिता या कानूनी अभिभावक आसानी से निवेश कर सकते हैं क्योंकि इस योजना के तहत खोले गए खाते में न्यूनतम ढाई ₹100 से निवेश किया जा सकता है इस योजना से देश में लड़कियों को एक आत्मनिर्भर जीवन जीने की प्रेरणा मिलेगी और साथ ही उच्च शिक्षा प्राप्त करने की रहा भी मिलेगी।

सुकन्या समृद्धि योजना से जुडी कुछ महत्वपूर्ण जानकारी::::—

  • समृद्धि योजना 2023 के तहत खोले गए खाते में प्रति वर्ष ढाई सौ रुपए जमा करना अनिवार्य है यदि किसी हाल में खाताधारक वर्ष में न्यूनतम ढाई ₹100 जमा नहीं कर पाता है तो उसके खाते को डिफॉल्ट खाता कहा जाएगा परंतु इस डिफॉल्ट खाते पर भी धारा धारा को परीक्षा अवधि पर लागू व्यास प्राप्त होगा।
  • लाभार्थी कन्या 18 साल की आयु पूरी कर लेने के बाद अपना सुकन्या समृद्धि खाता को संचालित कर सकती है इसके लिए उसे पोस्ट ऑफिस या बैंक जहां पर उसका खाता खुला है वहां जाकर सभी आवश्यक डॉक्यूमेंट जमा करने होंगे।
  • दसवीं कक्षा पास करने के बाद कन्या अपने खाते में 50 परसेंट राशि या किस्तों में निकाल सकती है यह राशि 1 साल में एक बार और अधिकतम पांच साल तक किस्तों में निकाली जा सकती है
  • सुकन्या समृद्धि योजना का खाता की मैच्योरिटी पीरियड 21 साल है परंतु कुछ परिस्थिति में जैसे 18 साल की आयु के बाद शादी होने पर खाता धारक की मृत्यु हो जाने पर या आर्थिक रूप से खाता संचालित करने में परेशानी आने पर बंद किया जा सकता है
  • इस योजना के द्वारा खोले गए निवेश खाते को देश भर में एक बैंक से दूसरे बैंक या पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर करने की सुविधा भी प्रदान की गई है।

सुकन्या समृद्धि योजना के लाभ::::—

  • मोदी जी सरकार द्वारा देश की 10 साल की आयु से कम बालिकाओं के भविष्य को आर्थिक तंगी से बचाने के लिए इस योजना का आयोजन किया गया है।
  • यह योजना खाताधारकों निवेश राशि वर्ष 7 पॉइंट 6 परसेंट की दर से ब्याज प्रदान करती है जो कि टैक्स फ्री होता है
  • निवेशक इस योजना के तहत अपनी वित्तीय स्थिति के अनुसार हर साल ढाई ₹100 और अधिकतम ₹200000 तक निवेश कर सकता है केंद्र सरकार द्वारा संचालित की जाने वाली अन्य योजनाओं की तुलना में निवेशकों को अधिक ब्याज इस योजना में गारंटी के साथ रिटर्न प्रदान किया जाएगा
  • योजना के तहत आयकर अधिनियम धारा 80 सी के तहत हर साल 50000 तक के कर में छूट प्रदान की जाएगी।

सुकन्या समृद्धि स्कीम के तहत पात्रता::::—

  • बालिका के माता-पिता या कानूनी आ विभाग द्वारा ही बालिका का सुकन्या समृद्धि खाता खोला जा सकता है।
  • माता-पिता या अभिभावक को भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • 10 वर्ष की आयु से कम की बालिका का इस योजना के तहत निवेश खाता खोला जा सकता है
  • एक परिवार की केवल दो लड़कियों का ही खाता इस योजना में खोला जा सकता है यदि किसी परिवार में एक लड़की के बाद जवान लड़कियां से नाम लेती हैं तो इस दशा में जवान लड़कियों का अलग-अलग निवेश खाता खोला जा सकता है।

आवश्यक दस्तावेज::::—

  • माता-पिता या कानूनी आई बाबा का आधार कार्ड पैन कार्ड पहचान पत्र जिनके द्वारा खाता चालू किया जाना है
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • चिकित्सा प्रमाण पत्र
  • बैंक या डाकघर द्वारा मांगे जाने वाले सभी आवश्यक डॉक्यूमेंट

सुकन्या समृद्धि योजना 2023 के तहत अकाउंट खोलने की प्रक्रिया::::—

  • सबसे पहले माता-पिता या कानूनी अभिभावक को सुकन्या समृद्धि योजना का आवेदन फॉर्म को पोस्ट ऑफिस या अपने नजदीकी बैंक से लेना होगा
  • अब आपको इस आवेदन में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारियां भरनी है
  • इसके बाद मांगे गए सभी आवश्यक दस्तावेज को इस फॉर्म से अटैच करना है
  • इसके बाद आपको यह फॉर्म उसी पोस्ट ऑफिस या बैंक में जमा करना है जहां से आपने यह फॉर्म लिया है
  • से आप सुकन्या समृद्धि योजना 2023 के तहत अपना आवेदन कर सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना खाते का बैलेंस कैसे चेक करें??

पहले आपको अपने बैंक से लॉगिन केस डिटेल प्रदान करने के लिए निवेदन करना होगा

  • लॉगइन कैंडी क्रश सभी बैंकों के द्वारा प्रदान नहीं किया जाता है
  • बैंकों में यह सुविधा प्रदान की जाती है
  • इसके बाद आपके सामने एक होम पेज खोलकर आएगा
  • आपको कंफर्म बैलेंस के विकल्प पर क्लिक करना है
  • इसके बाद आपके सामने सुकन्या समृद्धि खाते की राशि खुलकर आ जाएगी आप केवल इसी माध्यम से सुकन्या समृद्धि बैंक खाते का बैलेंस चेक कर सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना के नियम व शर्तें::::—

  • खाता खुलवाने की आयु-सुकन्या समृद्धि खाता बालिका की 10 वर्ष की आयु होने से पहले अभिभावक द्वारा खोला जा सकता है
  • खाते की संख्या-एक लड़की के लिए केवल एक ही खाता इस योजना के अंतर्गत खोला जा सकता है इस योजना के अंतर्गत एक बेटी के लिए माता-पिता द्वारा अलग-अलग खाता नहीं खोला जाएगा
  • परिवार के खाताधारकों की संख्या::-एक परिवार में केवल दो बेटियों ही इस योजना का लाभ उठा सकते हैं
  • जुड़वा बेटियों की स्थिति में एक परिवार के खाता धारक::-यदि जुड़वाया ट्रिपल वीडियो का जन्म होता है तो उसी में 2 से अधिक खाते खोले जा सकते हैं
  • खाते का संचालन:::–सुकन्या समृद्धि खाते को खाता धारक के 18 वर्ष की आयु होने तक खाताधारक विभाग द्वारा संचालित किया जाता है।

अधिकतम एवं न्यूनतम राशि जमा करने के नियम व शर्तें::::–

  • न्यूनतम खाता खोलने के लिए राशि:::–इस योजना के अंतर्गत न्यूनतम ढाई ₹100 में खाता खोला जा सकता है।
  • न्यूनतम प्रतिवर्ष निवेश-प्रत्येक वर्ष इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी को ढाई ₹100 का निवेश करना है।
  • डिफॉल्ट की स्थिति-यदि खाताधारक द्वारा प्रतिवर्ष ढाई ₹100 का निवेश नहीं किया गया तो इस स्थिति में खाता डिफॉल्ट कर दिया जाएगा यदि खाता डिफॉल्ट हो गया तो इस स्थिति में ढाई ₹100 की न्यूनतम राशि का भुगतान ₹50 की पेनाल्टी का भुगतान करके पुनः से किया जा सकता है।
  • अधिकतम निवेश राशि::-सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत अधिकतम 15 लाख तक की राशि का निवेश किया जा सकता है।
  • खाता खोलने के महत्वपूर्ण दस्तावेज:::–इस योजना के अंतर्गत खाता खोलने के लिए अभिभावकों फॉर्म में बेटी का जन्म प्रमाण पत्र तथा अभिभावक का पेन कार्ड आधार नंबर जमा करना होगा।
  • निवेश करने की अवधि-इस योजना के अंतर्गत खाता खोलने की तिथि से 15 साल तक निवेश किया जा सकता है।

खाते की प्रीमेच्योर क्लोजर से संबंधित नियम व शर्तें::::—

  • प्रीमेच्योर क्लोजर:::–सुकन्या समृद्धि खाते को समय से पहले या खाता खोलने के 5 साल बाद बंद कराया जा सकता है।
  • खाता धारक की मृत्यु-यदि था खाता धारक की मृत्यु हो जाती है तो इस स्थिति में यह खाता बंद करवाया जा सकता है।
  • जानलेवा रोग की स्थिति–यदि खाताधारकों किसी प्रकार का जानलेवा रोग हो जाता है तो इस स्थिति में खाता बंद कराया जा सकता है।
  • अभिभावक की मृत्यु-खाताधारक या अभिभावक जो खाते का संचालन करते हैं यदि उनकी मृत्यु हो जाती है तो इसमें खाता बंद करवाया जा सकता है।

सुकन्या सर्वाधिक खाते से पैसा निकालने के नियम व शर्तें::::—

निकासी करने की स्थिति–सुकन्या समृद्धि योजना खाते से पिछले वित्तीय वर्ष के अंत में उपलब्ध शेष राशि का अधिकतम 50 परसेंट की निकासी की जा सकती है।

सुकन्या समृद्धि खाते निकासी करने के लिए 

आयु-जेनिका शिवालिका के 18 साल की आयु पर पूरे होने या फिर दसवीं कक्षा में उत्तीर्ण होने के बाद की जा सकती है।

निकासी का प्रकार:::–खाते से निकासी 17 की जा सकती है या फिर किस्तों में भी की जा सकती है।

सुकन्या समृद्धि योजना के दिशा निर्देश::::–

  • सुकन्या समृद्धि योजना को देश की बालिकाओं के उज्जवल भविष्य के लिए आरंभ किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत आयकर अधिनियम 80c के अंतर्गत डिडक्शन की प्रदान की जाती है इस योजना के अंतर्गत अकाउंट को बेटी के नाम पर खोला जाता है।
  • यह अकाउंट बेटी की 10 वर्ष की आयु होने से पहले खोला जाता है।
  • प्रत्येक परिवार में केवल दो अकाउंट खोले जा सकते हैं।
  • जब तक बालिका 18 वर्ष की आयु की नहीं होती है तब तक इस योजना के अंतर्गत खुला हुआ खाता बालिका के माता-पिता द्वारा संचालित किया जाता है।
  • यदि न्यूनतम निवेश नहीं किया गया तो खाता डिफॉल्ट हो जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत खाता खुलवाने के लिए ढाई ₹100 प्रति वर्ष का निवेश करना होगा
  • डिफॉल्ट खाते को 15 साल की अवधि के लिए अंतर्गत दोबारा से खुलवाया जा सकता है
  • जिसके लिए डिफॉल्ट के प्रत्येक वर्ष के न्यूनतम ढाई ₹100 की राशि जमा करनी होगी
  • चुनाव के द्वारा निवेश की गई राशि पर सरकार द्वारा 7 पॉइंट 6 0 परसेंट का इंटरेस्ट दिया जाएगा।
  • सुकन्या समृद्धि खाता खुलवाने की तिथि से 21 वर्ष की अवधि के बाद मिर्ची और हो जाती है।
  • काका विवाह होने पर इस खाते को बंद करवाया जा सकता है।

Conclusion

आज हमने आपको Sukanya Samridhi Yojana 2023 खाता खुलवाने के विषय में जानकारी दी है हमने अपने लेख में आपको सुकन्या समृद्धि कि प्रत्येक जानकारी को विशेष रूप से बताया है उम्मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी हमारे लेखों को अंत तक पढ़ने के लिए आपका बहुत -बहुत धन्यवाद।

Leave a Comment